July 5, 2022

Guidance24

Latest News and Blog Updates

कई दिलों पर राज कर रहे गायक Arijit Singh की पूरी बायोग्राफी

पृष्ठभूमि: अरिजीत का जन्म मुर्शीदाबाद, पश्चिम बंगाल में हुआ था। उनके पिता पंजाबी और उनकी मां बंगाली हैं। उनके संगीत की शुरूआती ट्रेनिंग उनके घर से ही हुई। उनकी दादी गायन करती थीं। और उनकी आंटी भारतीय क्लासिकल संगीत में प्रशिक्षित हैं। उन्होंने संगीत अपनी मां से भी सीखा जो कि गायन के साथ साथ तबला वादन भी करती हैं। 
पढ़ाई: उन्होंने राजा बिजय सिंह हाईस्कूल और श्रीपत सिंह काॅलेज से पढ़ाई की। सिंह के मुताबिक, वे एक डीसेंट छात्र थे लेकिन संगीत में उनकी रूचि ज्यादा थी। उनका संगीत को लेकर लगाव को देखते हुए उनके परिवार ने भी उन्हें प्रोफेशनली प्रशिक्षित करने का निर्णय लिया। भारतीय क्लासिकल संगीत उन्होंने राजेंद्र प्रसाद हजारी से सीखा और तबला वादन का प्रशिक्षण धीरेंद्र प्रसाद हजारी से लिया। वहीं बीरेंद्र प्रसाद हजारी ने उन्हें रबींद्र संगीत और पाॅप संगीत सिखाया। 
शादी: सिंह ने अपनी बचपन की दोस्त कोयल राॅय से 20 जनवरी 2014 को पश्चिम बंगाल के तारापीठ मंदिर में शादी की। उन्होंने इस खबर की पुष्टि सोशल नेटवर्किंग साइट पर शादी की फोटो डालने के साथ की। यह उनकी दूसरी शादी थी। इससे पहले वे एक रियलिटी शो में उनकी ही को-कंटेस्टेंट के साथ शादी कर चुके थे। उनकी पत्नी कोयल की भी यह दूसरी शादी थी और उनकी एक लड़की भी है। 
करियर की शुरूआत
: 2005 में उन्होंने राजेंद्र प्रसाद हजारी के कहने पर रियलिटी शो फेम गुरूकुल का ऑडीशन दिया क्योंकि उन्हें लगता था कि क्लासिकल संगीत की परंपरा खत्म हो रही है। उस मौके का इस्तेमाल करने के लिए पहले तो सिंह झिझक रहे थे। लेकिन बाद में उन्होंने इसमें हिस्सा लिया। इसमें कंपोजर शंकर महादेवन जूरी पैनल में थे और उनका क्लासिकल बैकग्राउंड था। हालांकि, अरिजीत फाइनल में यह शो हार गए लेकिन इसके बाद उन्होंने एक अन्य रियलिटी शो 10 के 10 ले गए दिल में हिस्सा लिया जो कि संगीत का ही शो था और इसमें फेम गुरूकुल और इंडियन आइडल के विजेताओं के बीच मुकाबला था। शो जीतने के बाद, सिंह ने अपना रिकाॅर्डिंग सेटअप तैयार किया और म्यूजिक प्रोग्रामिंग के साथ अपनी यात्रा शुरू की। उसके बाद, उन्होंने असिस्टेंट म्यूजिक प्रोग्रामर के तौर पर शंकर-एहसान-लाॅय, विशाल-शेखर और मिथुन के साथ काम किया। उस समय, महादेवन ने अरिजीत को मनाया कि वे उनके द्वारा बनाए गए गाने को अपनी आवाज दें लेकिन अरिजीत यह कहते हुए मना कर दिया कि उन्हें एक ‘पापुलर वाॅयस’ बनना है जिसके बाद महादेवन ने अन्य गायक के साथ उस गाने को डब किया।