पहले बड़ी क्लास के बच्चों के लिए खुलेंगे स्कूल, सरकार का ये प्लान

कोरोना वायरस मरीजों के आंकड़े दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं, वहीं इस दौरान सभी माता- पिता, बच्चे एक सवाल  के बीच जूझ रहे हैं कि आखिर स्कूल कब खुलेंगे? आइए जानते हैं इसके बारे में.

एक ओर पूरे भारत में कोरोना मरीजों के आंकड़े 20 लाख के पार पहुंच गए हैं, वहीं इसी बीच केंद्र सरकार सितंबर के महीने से स्कूलों को फिर से खोलने के लिए चर्चा  कर रही है.सरकार का विचार है कि बड़ी कक्षाओं (10वीं-12वीं) के लिए स्कूल सितंबर और नवंबर के बीच शुरू हो सकते हैं. दिशानिर्देश  के अनुसार  कक्षा 10वीं-12वीं के लिए पहले स्कूल  खोले जाने पर विचार किया जा रहा है, जिसके बाद कक्षा छठी से 9वीं तक की कक्षाओं भी शामिल होंगी.
बता दें, इस मुद्दे पर स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन की अध्यक्षता में चर्चा की गई है.

पहले चरण में, कक्षा 10वीं और 12वीं के छात्रों को स्कूल आने के लिए कहा जाएगा. यदि किसी स्कूल में एक ही कक्षा के चार सेक्शन है, तो ऑल्टरनेटिव दिनों में हर दो सेक्शन के छात्रों को बुलाया जाएगा.

बदलेगा स्कूलों का समय
स्कूल का समय आधा कर दिया जाएगा. जहां  5 से 6 घंटे  आमतौर पर स्कूल चलते हैं. उसे  2 से 3 घंटे कर दिया जाएगा. इसी के साथ स्कूल को एक घंटे का समय सैनिटाइज करने के लिए दिया जाएगा. वहीं स्कूल में  33% स्टाफ को आने की अनुमति होगी.स्कूल को लेकर निर्णय को इस महीने के अंत में जारी किया जा सकता है. वहीं अंतिम निर्णय राज्यों पर छोड़ा जा सकता है कि छात्रों को स्कूलों में वापस कैसे बुलाया जाए.

बता दें, पिछले हफ्ते सभी राज्यों के शिक्षा सचिवों को लिखे पत्र में, मंत्रालय ने उन्हें माता-पिता की प्रतिक्रिया प्राप्त करने का निर्देश दिया था.

राज्यों ने अपना आकलन प्रस्तुत कर दिया है इन तारीखों को उन्हें लगता है कि स्कूल फिर से खुल सकते हैं.
दिल्ली – अगस्त
हरियाणा – 15 अगस्त
आंध्र प्रदेश – 5 सितंबर- (tentative)
कर्नाटक- 1 सितंबर
राजस्थान – सितंबर
केरल – 31 अगस्त
असम – 1 सितंबर- (tentative)
बिहार – 15 अगस्त
लद्दाख – 31 अगस्त
 
महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल जैसे कई राज्यों ने अभी नहीं बताया कि उनके राज्यों में स्कूल कब खोले जा सकते हैं. कोरोना काल में बेटे को स्कूल भेजने के लिए तैयार नहीं हूं. मैं बेटे की पढ़ाई में एक साल के ब्रेक के लिए तैयार हूं. क्योंकि मैं किसी भी हाल में अपने बेटे के स्वास्थ्य को खतरे में नहीं डाल सकता.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

11 August 2020 Current Affairs

Mon Aug 17 , 2020
राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स चेन्नई से अंडमान व निकोबार द्वीप समूह के लिए 2,300 किलोमीटर की जलमग्न ऑप्टिकल फाइबर केबल लॉन्च की गई 10 अगस्त, 2020 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के लिए चेन्नई और पोर्ट ब्लेयर के बीच 2,300 किलोमीटर लंबी जलमग्न ऑप्टिकल फाइबर केबल लॉन्च की, जो इन द्वीपों के निवासियों को तेजी से इंटरनेट कनेक्शन देगी। इससे द्वीप पर टेली-शिक्षा, टेली-स्वास्थ्य, ई-गवर्नेंस सेवाओं […]

You May Like